Biography

Author Picture

 Shailesh

शैलेश:2020 के मार्च-अप्रैल में कोरोना महामारी फैलने के बाद से ही इस विषय पर लगातार रिपोर्टिंग कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण पर क़रीब 25 वरिष्ठ डॉक्टरों का सौ बार से ज़्यादा इंटरव्यू किया। इनमें वो डॉक्टर भी शामिल हैं, जिन्हें ख़ुद कोरोना संक्रमण से गुज़रना पड़ा। ये सभी इंटरव्यू सत्य हिंदी (www.satyahindi.com) चैनल पर प्रसारित किए गए। पंजाब केशरी ग्रुप के अखबारों, ख़ास कर नवोदयटाइम्स में कोरोना संक्रमण पर अनेक लेख प्रकाशित हुए।

1980 से पत्रकारिता में हैं।

2013 में सीईओ और प्रधान संपादक के रूप में हिंदी न्यूज़ टीवी चैनल "न्यूज़ नेशन" को लॉन्च किया, जो आज देश के बड़े चैनलों में शुमार किया जाता है। उसके पहले लंबे समय तक "आजतक" टीवी न्यूज़ चैनल में कार्यकारी संपादक का काम किया। देश के पहले चौबीस घंटे के न्यूज़ चैनल "जी न्यूज़" के लॉन्च के साथ संपादक (इनपुट) के रूप में जुड़े रहे। देश के पहले लोकल न्यूज़ चैनल टोटल टीवी को भी लॉन्च किया।

 

लखनऊ से प्रकाशित "अमृत प्रभात" में रिपोर्टर के तौर पर 1980 में पत्रकारिता की शुरुआत की। टीवी न्यूज़जाने से पहले दिल्ली से प्रकाशित "नवभारतटाइम्स" में मुख्य संवाददाता का काम किया। टीवी पत्रकारिता पर एक पुस्तक "स्मार्ट रिपोर्टर" का डॉ.ब्रजमोहन के साथ सहलेखन किया। कुछ समय तक "न्यूज़24" टीवी चैनल ग्रुप के पत्रकारिता संस्थान में डीन के तौर पर शिक्षण से जुड़े रहे।

लेखन और रिपोर्टिंग मुख्य तौर पर राजनीतिक, आर्थिक और सामाजिक विषयों पर किया। कोरोना जब एक महामारी की तरह फैलने लगी और जानकारी की कमी के कारण भी बड़ी संख्या में लोगों की मौत होने लगी, तब विशेषज्ञ डॉक्टरों के इंटरव्यू के ज़रिए लोगों को जागरूक करने का अभियान शुरू किया। इसी दौरान डॉ. अशोक जैनर ने करोना जैसी जानलेवा बीमारी पर हिंदी में किताब लिखने के लिए प्रेरित किया।