Samandar paar - kapaang saagar समंदर पार - कपांग सागर
Samandar paar - kapaang saagar समंदर पार - कपांग सागर
Look Inside
Sale!

समंदर पार – कपांग सागर PB

449 430

Category:

समंदर पार- कपांग सागर, ये बुक एक नॉवल है फैंटसी से भरपूर। इस कहानी में सबसे अलग रहस्यमई घटनाएं लिखी गई है जोकी रोमांच से भरी हुई है। ये कहानी पांच दोस्तों से शुरू होती है जिसमें बाद में दो और लोग जुड़ जाते हैं। इस किताब में एक ऐसी दुनिया के बारे में लिखा गया है जोकि धरती की दुनिया से बिल्कुल अलग होती है। वो एक ऐसी दुनिया में पहुँच जाते हैं जहां सिर्फ और सिर्फ समंदर ही समंदर होता है जिसका नाम है कपांग सागर। उन्हें उस सागर में होने वाली अलग-अलग तरह की रहस्यमई घटनाओं का सामना करना पड़ता है। इस कहानी में कैसे समुद्री जीव उनके पीछे पड जाते है और कैसे वे साँपों की दुनिया में पहुँच जाते हैं। उनके वहां जाने का क्या मकसद होता है ये भी उन्हें नहीं पता होता। वे सभी दोस्त सिर्फ एडवेंचर से भरी ज़िंदगी जीना चाहते हैं, इसलिए ऐसे सफर के लिए निकल पड़ते हैं। वे वहां पहुँचने के बाद कैसे उन समुद्री जीवों से बचते हैं और कैसे अपने लिए वहां से निकलने का रास्ता निकालते हैं।

Author Name

Manisha Bhagat

Author

Manisha Bhagat

Publisher

Namya Press

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “समंदर पार – कपांग सागर PB”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Editorial Review

समंदर पार- कपांग सागर, ये बुक एक नॉवल है फैंटसी से भरपूर। इस कहानी में सबसे अलग रहस्यमई घटनाएं लिखी गई है जोकी रोमांच से भरी हुई है। ये कहानी पांच दोस्तों से शुरू होती है जिसमें बाद में दो और लोग जुड़ जाते हैं। इस किताब में एक ऐसी दुनिया के बारे में लिखा गया है जोकि धरती की दुनिया से बिल्कुल अलग होती है। वो एक ऐसी दुनिया में पहुँच जाते हैं जहां सिर्फ और सिर्फ समंदर ही समंदर होता है जिसका नाम है कपांग सागर। उन्हें उस सागर में होने वाली अलग-अलग तरह की रहस्यमई घटनाओं का सामना करना पड़ता है। इस कहानी में कैसे समुद्री जीव उनके पीछे पड जाते है और कैसे वे साँपों की दुनिया में पहुँच जाते हैं। उनके वहां जाने का क्या मकसद होता है ये भी उन्हें नहीं पता होता। वे सभी दोस्त सिर्फ एडवेंचर से भरी ज़िंदगी जीना चाहते हैं, इसलिए ऐसे सफर के लिए निकल पड़ते हैं। वे वहां पहुँचने के बाद कैसे उन समुद्री जीवों से बचते हैं और कैसे अपने लिए वहां से निकलने का रास्ता निकालते हैं।